Sunday, 23 February 2020

मेरे अरमानों को तोड़ा,Sad Shayari

  RK       Sunday, 23 February 2020

Sad Shayari In Hindi




## मेरे अरमानों को तोड़ा, मेरे सपनों को तोड़ा#
## तोड़ दिया मेरे आंसुओं के बांध का किनारा#
## तूने छोड़ा, तेरे अपनों ने मुझे छोड़ा#
## मैंने छोड़    दिया  ये  जग सारा#


@@तेरी गहराई देखी थी, तेरी परछाई देखी थी@
@@देखा नहीं तो तेरे पीछे का छुपाया हुआ चेहरा@
@@तूने तो कह दिया छोड़ना है तो छोड़ दो@
@@मैं क्या करता दोनों तरफ नुकसान तो था मेरा@



∆∆प्यार के झिंझोले में पढ़ने वालो
दो आंसुओं के लिए लड़ने वालो
जरा सुन लो अपने दिल की बात
जिसे अपना अपना कहने वालो
वह   तुझे   जानता   तो   नहीं
ठहरो पहले कर लो उनसे मुलाकात
वह   प्यार  को  मानता  तो नहीं
प्यार तन्हाई है उसे खुदा बनाने वालों
कुछ वक्त बाद वो पहचानता नहीं
प्यार  के  झंझट में  पढ़ने  वालो
जरा सुन लो अपने दिल की बात ∆∆



~तेरी आंखों से निकले हर आंसू को पोंछा~
~तुझे अपने दिल के महल का राजा बना दिया~
~तूने मुड़ कर देखा नहीं उस वक्त भी~
~जब मैने अपने दिल का हाल सुना दिया~



^^मैंने पाया वो जो सपने में भी नहीं सोचा^^
^^तुझे खुश रखने के लिए अपना वक्त गंवा दिया^^
^^कदर ना कि तूने मेरी हर उस  थकावट की^^
^^बेपनाह जिंदगी में बेवक्त तूने दगा दिया^^



Mere armaanon Ko Toda, mere sapnon Ko Toda
Tod Diya mere aansuon Ke bande Ka kinara

Tune chhoda, Tere apno ne mujhe chhoda
Maine chhod Diya yah Jag Sara



Pyar Ke jinjole mein padhne walon
Do aansu ke liye ladne walon
Jara sun lo apne Dil ki baat
Jise apna apna kahane walon
Vah tujhe jaanta to nahin
Thaharo pahle kar lo unse mulakat
Vah Pyar Ko manta to nahin
Pyar tanhai hai use khuda banane walon
Kuchh waqt bad vah pehchanta nahin
Pyar Ke janjat mein padhne walon
Jara sun lo apne Dil ki baat



Teri aankhon se nikale har aansu ko pahuncha
Tujhe apne Dil Ke Mahal ka raja banaa Diya
Tune mudkar dekha nahin use waqt bhi
Jab maine apne Dil Ka Hal suna Diya



Maine paya vo Jo sapne mein bhi nahin Socha
Tujhe khush rakhne ke liye apna waqt gava Diya
Kadar na ki tune Meri har use thakawat ki
Bepanah jindagi mein bewaqt tune daga Diya
logoblog

Thanks for reading मेरे अरमानों को तोड़ा,Sad Shayari

Previous
« Prev Post

No comments:

Post a Comment